Testing dove soap and its effects

हमने 5 औरतों के चेहरे पर डव(dove) साबुन लगाया
❄❄❄❄❄❄❄❄

और

5 औरतों को शॉपिंग करवाई

💃👗👠👢👡🎽🎀👛👝👗👚👜👒💅 🙆

शॉपिंग वाली के चेहरे पर ज्यादा रौनक थी |

What is love? explain in detail (marks: 20)

12वीं' कक्षा का एक प्रश्न ~~~~~~~~~~~~~
प्रश्न : प्यार क्या है ? विस्तार से बताइये!
(20 अंक)

अमरीकी विद्यार्थी का उत्तर:

प्यार 'दर्द' को कहते हैं
(परीक्षा परिणाम: प्राप्तांक 9/20)

इंग्लैंड के विद्यार्थी का उत्तर:

प्यार 'ज़िन्दगी' को कहते हैं
(परीक्षा परिणाम: प्राप्तांक 5/20)

UAE के विद्यार्थी का उत्तर:

प्यार 'खुदा' को कहते हैं
(परीक्षा परिणाम: प्राप्तांक 7/20)

भारतीय विद्यार्थी का उत्तर:

प्यार की परिभाषा:-
'प्यार' के द्वारा एक महिला और पुरुष के मध्य, उपजे प्रेम-सम्बन्ध से दिल की गंभीर बीमारी हो जाती है। और अगर ये प्रेम परवान ना चढ़े तो दोनों में से किसी एक की मृत्यु भी हो जाती है।

प्यार के प्रकार :
(1)- एक तरफ़ा प्यार।
(2)- दो तरफ़ा प्यार।

आयु :-
आमतौर पर यह 15 से 25 की उम्र के बीच होता है। लेकिन आजकल यह किसी भी उम्र में हो जाता है।

लक्षण :
(1)- अनिद्रा।
(2)- दिन में सपने देखना।
(3)- फेसबुक, व्हाटसएप के बिना
एक-एक पल दूभर हो जाना
(4)- फ़ोन की लत।
मूल कारण/मूल्यांकन:
(1)- फोन पे चेटींग से
(2)- तस्वीरों से
(3)- मोबाईल द्वारा ज्यादा फैलता है।

इलाज:-
(1)- पिता के जूते द्वारा एंटी लव चिकित्सा !
(2)- माँ की चप्पल की अंधाधुंध मार ||



परीक्षा परिणाम: (प्राप्तांक 20/20)

😜😜😜😜😜😜😜😜

Modern meaning of hindi proverbs

मुहावरो के आधुनिक अर्थ...

1. सुख की जान दुःख में डालना = शादी करना

2. आ बैल मुझे मार = पत्नी से पंगा लेना

3. दीवार से सर फोड़ना = पत्नी को कुछ समझाना

4. चार दिन की चांदनी वही अँधेरी रात = पत्नी का मायके से वापस आना

5. आत्म हत्या के लिए प्रेरित करना = शादी की राय देना

6. दुश्मनी निभाना = दोस्तों की शादी करवाना

7. खुद का स्वार्थ देखना = शादी ना करना

8. पाप की सजा मिलना = शादी हो जाना

9. लव मैरिज करना = खुद से युद्ध करने को योद्धा ढूंढना

10. जिंदगी के मज़े लेना = कुँवारा रहना

11. ओखली में सिर देना = शादी के लिए हाँ करना

12. दो पाटों में पिसना = दूसरी शादी करना

13. खुद को लुटते हुऐ देखना = पत्नी को पर्स से पैसे निकालते हुए देखना

14. पैरों तले जमीन खिसकना = पत्नी को साक्षात सामने दिखना

15. शादी के फ़ोटो देखना = गलती पर पश्चाताप करना

16. सर मुंडाते ही ओले पड़ना = परीक्षा में फेल होते ही शादी हो जाना

17. शादी के लिए हाँ करना = स्वेच्छा से जेल जाना

18. शादी = बिना अपराध की सजा

19. बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना = दुसरो के दुःख से खुश होना

20. साली आधी घर वाली = वो स्कीम जो दूल्हे को बताई जाती है लेकिन दी नहीं जाती...😌

Management funda

मैनेजमेंट फंडा

गधे और कुत्ते का मैनेजमेंट फंडा एक रात जब पूरी दुनिया सो रही थी, तभी एक धोबी के घर में एक चोर घुस आया।

धोबी गहरी नींद में सो रहा था, लेकिन उसका कुत्ता और गधा जाग रहे थे। कुत्ता अपने मालिक को सबक सिखाना चाहता था, क्योंकि वह उसका ख्याल नहीं रखता था। इसलिए वह नहीं भौंका। गधे को चिंता होने लगी और उसने कुत्ते से कहा कि अगर वह नहीं भौंका तो उसे ही कुछ करना होगा। कुत्ते ने अपना मन नहीं बदला तो गधा ही जोर-जोर से रेंकने लगा। गधे का रेंकना सुनकर चोर भाग गया। धोबी उठा और गधे को बिना वजह रेंकने के लिए पीटने लगा।

कहानी से यह शिक्षा मिलती है कि दूसरे के काम में टांग अड़ाने से, दूसरे के हिस्से का काम करने से कुछ भला नहीं होने वाला। इसलिए अपने में मस्त रहें।

चलिए अब इसी कहानी को दूसरे नजरिए से देखते हैं।

धोबी एक अव्वल दर्जे का मैनेजमेंट-कॉपरेरेट आदमी था। उसमें चीजों को अलग नजरिए से देखने और अलग सोचने की क्षमता थी। उसे यकीन था कि आधी रात को गधे के रेंकने की जरूर कोई वजह रही होगी। वह घर से थोड़ा बाहर निकला और तथ्यों की जांच-पड़ताल कर उसने पाया कि घर में चोर घुसा था और गधा सिर्फ उसे आगाह करना चाहता था। गधे की पहल और डयूटी से बढ़कर काम करने की ललक को देखते हुए धोबी ने उसे ढेर सारी घास दी और पसंदीदा पालतू जानवर बना लिया।वहीं कुत्ते की जिंदगी में ज्यादा बदलाव नहीं आए सिवाय इसके कि गधा अब और उत्साह से कुत्ते का काम भी करने लगा।

सेलरी बढ़ने के समय पर कुत्ते को 8 मिले और गधे को ९ अंक। जल्द ही कुत्ते को अहसास हुआ कि उसकी सभी जिम्मेदारियां गधे ने संभाल ली हैं और वह अब आराम से समय काट सकता है।

गधे पर अब अच्छा परफॉर्म करने का बोझ बढ़ गया। जल्द ही उस पर ढेर सारा काम आ गया और वह दबाव में रहने लगा। इससे परेशान होकर वह धोबी का घर छोड़ने की सोचने लगा।

कहानी से अब भी वही शिक्षा मिलती है कि दूसरे के काम में टांग अड़ाने से, दूसरे के हिस्से का काम करने से आपका भला नहीं होने वाला। इसलिए अपने में मस्त रहें।

डिस्क्लेमर- इस कहानी का कोई भी पात्र काल्पनिक नहीं है।

Gujjus can sell anything

Gujubhai Interview Ke Liye Gaya.

Naukri Already Boss Ke Saale Ko Mil Chuki Thee.

Par Formality Ke Liye Interview Jaroori Tha.

Isliye Aise Sawaal Pucche Ja Rahe The Jinka Kol Matlab Nahin Tha.

Gujubhai Ki Bari Aayi.

Interviewer : Aap Nadi Ke Beech Ek Boat Par Ho, Aur Apke Paas do Cigarettes Ke Alawa Kuch Bhi Nahin Hai.

Apko ek cigarette Jallana Hai. ? Kaise Jalaoge ?

Gujubhai Very Serious.

Sir Iske teen-char Solutions Ho Sakte Hai...

Interviewer Shocked Lekin Kahaan... Batao!!!

Gujubhai Ke Out Of The World Answers: Take one cigarette and throw it in the Water. So the boat will become

LIGHTER…… using this LIGHTER you can light the other Cigarette

Interviewer:- Kya Bakwas Hai...

Gujubhai's another deadly solution: You throw a cigarette up and catch it. Catches win Matches. Using the matches that you win, you can light the cigarette

Interviewer:-Stupid

Gujubhai :- Sir one more Solution….

Take water in your hand

and drop it drop by drop…(TIP – TIP)

Interviewer:- Abey Gadhe Usse Kya hoga..

Gujubhai :- Sir Aapne Wo Gaana Nahin Suna

“TIP TIP barsa Pani. Pani ne aag lagayee.” us aag se hamne cigarette jalayee”

Gujubhai - Sir If that was not enough, i have one more solution…..

Start praising one cigarette,The other will get jealous & “jalney lagega”

Interviewer Impressed :- Saale ko maaro goli , naukri Gujubhai ko hee de do.

Gujjus can sell anything...😂😂

Dedicated to honest teachers

--भोलेभाले टीचर्स को समर्पित

गुरूजी विद्यालय से घर लौट रहे थे ।

रास्ते में एक नदी पड़ती थी ।

नदी पार करने लगे तो ना जाने क्या सूझा ,

एक पत्थर पर बैठ अपने झोले में से पेन और कागज निकाल अपने वेतन का हिसाब निकालने लगे ।

अचानक…..,

हाथ से पेन फिसला और डुबुक ….

पानी में डूब गया । गुरूजी परेशान ।

आज ही सुबह पूरे पांच रूपये खर्च कर खरीदा था ।

कातर दृष्टि से कभी इधर कभी उधर देखते ,

पानी में उतरने का प्रयास करते ,

फिर डर कर कदम खींच लेते ।

एकदम नया पेन था ,

छोड़ कर जाना भी मुनासिब न था ।

अचानक…….

पानी में एक तेज लहर उठी ,

और साक्षात् वरुण देव सामने थे ।

गुरूजी हक्के -बक्के ।

कुल्हाड़ी वाली कहानी याद आ गई ।

वरुण देव ने कहा , ”गुरूजी, क्यूँ इतने परेशान हैं ।

प्रमोशन , तबादला , वेतनवृद्धि ,क्या चाहिए ?

गुरूजी अचकचाकर बोले , ” प्रभु ! आज ही सुबह

एक पेन खरीदा था ।

पूरे पांच रूपये का ।

देखो ढक्कन भी मेरे हाथ में है ।

यहाँ पत्थर पर बैठा लिख रहा था कि पानी में गिर गया

प्रभु बोले , ” बस इतनी सी बात ! अभी निकाल

लाता हूँ ।”

प्रभु ने डुबकी लगाई ,

और चाँदी का एक चमचमाता पेन लेकर बाहर आ गए ।

बोले – ये है आपका पेन ?

गुरूजी बोले – ना प्रभु । मुझ गरीब को कहाँ ये

चांदी का पेन नसीब । ये मेरा नाहीं ।

प्रभु बोले – कोई नहीं , एक डुबकी और लगाता हूँ

डुबुक …..

इस बार प्रभु सोने का रत्न जडित पेन लेकर आये।

बोले – “लीजिये गुरूजी , अपना पेन ।”

गुरूजी बोले – ” क्यूँ मजाक करते हो प्रभु ।

इतना कीमती पेन और वो भी मेरा । मैं टीचर हूँ

सर , DPC नहीं ।

थके हारे प्रभु ने कहा , ” चिंता ना करो गुरुदेव ।

अबके फाइनल डुबकी होगी ।

डुबुक ….

बड़ी देर बाद प्रभु उपर आये ।

हाथ में गुरूजी का जेल पेन लेकर ।

बोले – ये है क्या ?

गुरूजी चिल्लाए – हाँ यही है , यही है ।

प्रभु ने कहा – आपकी इमानदारी ने मेरा दिल जीत

लिया गुरूजी ।

आप सच्चे गुरु हैं । आप ये तीनों पेन ले लो ।

गुरूजी ख़ुशी – ख़ुशी घर को चले ।

.

.

कहानी अभी बाकी है दोस्तों —

गुरूजी ने घर आते ही सारी कहानी पत्नी जी को सुनाई

चमचमाते हुवे कीमती पेन भी दिखाए ।

पत्नी को विश्वास ना हुवा ,

बोली तुम किसी DPC का चुरा कर लाये हो ।

बहुत समझाने पर भी जब पत्नी जी ना मानी

तो गुरूजी उसे घटना स्थल की ओर ले चले ।

दोनों उस पत्थर पर बैठे ,

गुरूजी ने बताना शुरू किया कि कैसे – कैसे सब हुवा

पत्नी एक एक कड़ी को किसी शातिर पुलिसिये की तरह जोड़ रही थी कि

अचानक …….

डुबुक !!!

पत्नी का पैर फिसला , और वो गहरे पानी में समा गई ।

गुरूजी की आँखों के आगे तारे नाचने लगे ।

ये क्या हुवा !

जोर -जोर से रोने लगे ।

तभी अचानक ……

पानी में ऊँची ऊँची लहरें उठने लगी ।

नदी का सीना चीरकर साक्षात वरुण देव प्रकट

हुवे ।

बोले – क्या हुआ गुरूजी ? अब क्यूँ रो रहे हो ?

गुरूजी ने रोते हुए सारी story प्रभु को सुनाई ।

प्रभु बोले – रोओ मत। धीरज रखो ।

मैं अभी आपकी पत्नी को निकाल कर लाता हूँ।

प्रभु ने डुबकी लगाईं ,

और …....

थोड़ी देर में

वो सनी लियोनी को लेकर प्रकट हुवे ।

बोले –गुरूजी ।

क्या यही आपकी पत्नी जी है ??

गुरूजी ने एक क्षण सोचा ,

और चिल्लाए –

हाँ यही है , यही है ।

अब चिल्लाने की बारी प्रभु की थी ।

बोले – दुष्ट मास्टर ।

टंच माल देखा तो नीयत बदल दी ।

ठहर तुझे श्राप देता हूँ ।

गुरूजी बोले – माफ़ करें प्रभु ।

मेरी कोई गलती नहीं ।

अगर मैं इसे मना करता तो आप

अगली डुबकी में प्रियंका चोपड़ा को लाते ।

मैं फिर भी मना करता तो आप मेरी पत्नी को लाते ।

फिर आप खुश होकर तीनों मुझे दे देते ।

अब आप ही बताओ भगवन ,

इस महंगाई के जमाने में

मैं तीन – तीन बीबीयाँ कैसे पालता ।

सो सोचा , सनी से ही काम चला लूँगा ।

और इस ठंड में आप भी डुबकियां लगा लगा कर थक गये होंगे ।

जाइये विश्राम करिए ।

bye bye.....

छपाक … ?????

एक आवाज आई ।

प्रभु बेहोश होकर पानी में गिर गए थे ।

गुरूजी सनी का हाथ थामे

सावधानीपूर्वक धीरे – धीरे नदी पार कर रहे थे ,,,😜😜😜😜😜

Marwari being marwari

मारवाडी को फांसी की सजा सुनाई गयी ..

जज ने पूछा- कोई आखिरी ख्वाहिश?

मारवाडी - म्हारी जगा थे लटक जाओ

Wifi Connections in Delhi: Kejriwal

अब ये कौन अफवाह फैला रहा है कि....

.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
मोबाइल को झाडू के पास ले जाने पर हल्का हल्का वाई-फाई पकड रहा है